महिलाओं के नाम पर संपत्ति लेने में सबसे बड़ा फायदा, मिलती है इतने प्रतिशत तक की छूट

पुरुषों के मुकाबले महिलाओं के नाम पर संपत्ति लेने में सबसे बड़ा फायदा होता है. इस बात की जानकारी ज्यादातर लोगों को नहीं है. लेकिन आज Property Bharat आपको बताने जा रहा है कि कैसे महिलाओं के नाम पर प्रॉपर्टी लेने से आपको फायदा हो सकता है. ना सिर्फ फायदे की जानकारी देंगे बल्कि आपको इसकी प्रक्रिया के बारे में भी बताएंगे ताकि आपको किसी तरह की परेशानी ना हो.

Image result for महिलाओं के नाम पर लें प्रॉपर्टी
महिलाओं के नाम पर प्रॉपर्टी लेने पर मिलती है छूट (साभार-गूगल)

महिलाओं के नाम पर संपत्ति लेने में सबसे बड़ा फायदा रजिस्ट्री में मिलने वाली छूट के तौर पर देखा जा सकता है. देश में ना सिर्फ कई राज्य ऐसे हैं जहां महिलाओं के नाम पर संपत्ति की रजिस्ट्री कराने पर स्टांम्प ड्यूटी में 2 फीसदी की छूट मिलती है, बल्कि कई राज्यों में एक रकम निर्धारित की गई है. अगर आप चाहते हैं कि संपत्ति आपके नाम पर हो और आपको महिला के नाम पर रजिस्ट्री में मिलने वाली छूट भी मिले तो ये भी मुमकिन है. अगर संपत्ति का मालिकाना हक पूरी तरह से किसी महिला के नाम पर नहीं है और उसे प्रॉपर्टी में जॉइंट ओनर बनाया गया हो तो इस स्थिति में भी रजिस्ट्री में एक फीसदी की छूट का लाभ उठाया जा सकता है.

भारत देश में आपको उस तरह के लोग ज्यादा मिलेंगे जो छूट का इंतजार करते हैं, फिर चाहे वो शॉपिंग को लेकर हो या फिर प्रॉपर्टी से जुड़ी. ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि पिछले कुछ सालों में महिलाओं के नाम पर खरीदे गए घरों की लिस्ट बता रही है. पिछले कुछ सालों में महिलाओं के नाम पर संपत्ति खरीदने वालों की संख्या में भी अच्छा-खास इजाफा देखने को मिलता है.

Image result for महिलाओं के नाम पर लें प्रॉपर्टी लोन
लोन में पत्नी को ‘को-ऐप्लीकेंट’ बनाएं (साभार-गूगल)

संपत्ति मामलों के विशेषज्ञों की माने तो महिलाओं के नाम पर संपत्ति खरीदकर टैक्स प्लैनिंग को जहां आसान बनाया जा सकता है तो वहीं कई तरह की छूट का लाभ भी हासिल किया जा सकता है. ऐसे में अगर आप भी किसी संपत्ति में निवेश करने का मन बना रहे हैं तो इसे अपने घर की महिला के नाम पर खरीद सकते हैं. या फिर उन्हें संपत्ति के मालिकाना हक में अधिकार देकर भी कई तरह से लाभ उठा सकते हैं.

कैसे उठाएं लाभ ?

बढ़ाएं लोन की रकम – सबसे पहले अगर आप होम लोन लेकर संपत्ति खरीदने पर विचार कर रहे हैं तो ऐसे में अपनी पत्नी को इस ऐप्लीकेशन में को-ऐप्लीकेंट बना सकते हैं. इसके लिए आपकी पत्नी कोई नौकरी या फिर अपना बिजनस कर रही हो. ऐसा होने से आपकी आय में उनकी आय भी शामिल हो जाएगी. साथ ही आय में इजाफा होने से आपको मिलने वाली होम लोन की रकम में भी इजाफा हो जाएगा.

रजिस्ट्री में मिलती है छूट – महिलाओं के नाम पर संपत्ति लेने में सबसे बड़ा फायदा रजिस्ट्री में मिलने वाली छूट के तौर पर देखा जा सकता है. देश के तमाम राज्यों में महिलाओं के नाम पर संपत्ति की रजिस्ट्री कराने पर स्टांम्प ड्यूटी में 2 फीसदी की छूट मिलती है. अगर संपत्ति का मालिकाना हक पूरी तरह से किसी महिला के नाम पर नहीं है और उसे प्रॉपर्टी में जॉइंट ओनर बनाया गया हो तो इस स्थिति में भी रजिस्ट्री में एक फीसदी की छूट का लाभ उठाया जा सकता है. इन सबके अलावा कई राज्यों में महिलाओं को मिलने वाली छूट के लिए एक रकम निर्धारित की गई है.

प्रॉपर्टी टैक्स में बचत– अगर आप दिल वालों के शहर दिल्ली में कोई प्रॉपर्टी लेने की योजना बना रहे हैं तो इस शहर में महिला के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदना सबसे बड़ी समझदारी मानी जाती है. आप वाकिफ होंगे कि लोकैलिटी की देख-रेख के लिए हर साल एमसीडी को प्रॉपर्टी टैक्स चुकाना होता है. इस टैक्स में भी महिलाओं के लिए छूट के प्रावधान किए गए हैं. बशर्ते संपत्ति का स्वामित्व किसी महिला के नाम पर हो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *