दिल्ली-NCR में किराये पर घर लेने के लिए बेस्ट है ये जगह, नहीं होगी किसी भी तरह की परेशानी

नोटबंदी से रियल एस्टेट मार्केट में भले ही असर पड़ा हो, लेकिन किराया मार्केट की रफ्तार में तेजी देखने को मिली है. आर्थिक स्थिती सही ना होने के चलते अब ज्यादा तर लोग यही सोच रहे हैं कि भले ही अपना घर ना हो लेकिन किराया का घर भी ऐसी जगह हो जहां उन्हें किसी तरह की परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा.

इन परेशानियों का सामना ज्यादातर वो लोग करते हैं जो छोटे शहरों से बड़ा सपना लेकर दिल्ली, गुड़गांव, नोएडा और फरीदाबाद जैसे शहर की ओर कूच करते हैं. यही कारण है कि दिल्ली-एनसीआर में किराया बाजार हमेशा से मजबूत रहा है. ऐसा नहीं है कि कोई भी कहीं से भी आया और तुरंत घर किराए पर ले लिया हो. किसी भी सही नतीजे पर पहुंचने से पहले लोगों को किराये के घर के सकारात्मक और नकारात्मक पहलुओं के बारे में मालूम जरूर कर लेना चाहिए.

वैसे तो दिल्ली एनसीआर में कई ऐसी जगह हैं जहां आप किराये पर घर बिना किसी परेशानियों के ले सकते हैं. लेकिन गुड़गांव, फरीदाबाद, नोएडा और गाजियाबाद जैसे कई ऐसे शहर हैं जो रहने के हिसाब से अच्छा बताया जाता है.

Image result for rent in gurgaon
Source-Google

गुरुग्राम

गुरुग्राम और खासकर इसके नए इलाके हमेशा से प्रस्तावित किरायेदारों की पसंद रहे हैं. मेट्रो के कारण इस मिलेनयम सिटी में लोगों के लिए ट्रैवल करना बेहद आसान हो गया है. लोगों की माने तो गोल्फ कोर्स एक्सटेंशन और सेक्टर 47, 50, 55 व 56 सोशल इन्फ्रास्ट्रक्चर, कमर्शियल हब्स, हेल्थकेयर सेंटर्स, एजुकेशन इंस्टिट्यूट्स और मेट्रो होने के कारण किराये पर लेने के लिए काफी अच्छी जगह है.

Related image
Source-Google

फरीदाबाद

एक अन्य किराया बाजार फरीदाबाद है, जिसे अब उसकी कीमत मिल रही है. प्रॉपर्टी खरीदने के लिए यह भारत का बड़ा केंद्र बन गया है. ऑक्युपेंसी लेवल बेहतर होने के कारण फरीदाबाद घर किराये पर लेने के लिेए बेहतर विकल्प है. इस इलाके की नोएडा, गुरुग्राम और दिल्ली से शानदार कनेक्टिविटी है. मेट्रो इस सैटलाइट शहर को दिल्ली और नोएडा से जोड़ती है. इसके अलावा गुरुग्राम-फरीदाबाद एक्सप्रेसवे भी लोगों की यात्रा सुगम बनाता है.

Image result for Society in Delhi
Source- Google

दिल्ली

अगर आप दिल्ली में किराये पर घर लेने की सोच रहे हैं तो द्वारका बेहतरीन विकल्प है. यह दिल्ली मेट्रो से जुड़ा हुआ है और गुरुग्राम व एयरपोर्ट से भी करीब है. इन सबके अलावा अगर आप पॉश एरिया में रहना चाहते हैं तो दिल्ली-एनसीआर में रहने की सर्वश्रेष्ठ जगह हैं साकेत, वसंत कुंज, लाजपत नगर, साउथ एक्स. इन सबके अलावा राजौरी गार्डन, पंजाबी बाग, करोल बाग जैसी जगह भी किराये में रहने के हिसाब से अच्छा बताया जाता है.

Image result for Society in Noida
Source- Google

नोएडा

कम रेंटल और रोजगार के अवसरों के कारण नोएडा किराये पर घर लेने वालों की पसंद बन गया है. नोएडा में सेक्टर, 74 और 78 किराये पर घर लेने की सर्वश्रेष्ठ लोकेशन हैं. इसका कारण है कि ये जगह नोएडा के रोजगार केंद्र और ग्रेटर नोएडा से करीब हैं. नोएडा के जिन सेक्टर्स में किराये के मकानों की खूब मांग है, वे हैं सेक्टर्स 137 और 144. अगर बात लग्जरी सेग्मेंट्स की करें तो नोएडा में कई ऐसी सोसाइटी हैं जहां आपको आपके बजट के हिसाब से मकान/फ्लैट किराये पर मिल जाएगा.

Image result for Society in Ghaziabad
Source-Google

गाजियाबाद

दिल्ली, फरीदाबाद, गुड़गांव और नोएडा के अलावा गाजियाबाद भी एक ऐसी जगह है जहां आप किराये पर घर आसानी से ले सकते हैं. यहां भी आपको अपने बजट के हिसाब से घर किराये पर मिल जाएगा. गाजियाबाद में इन दिनों कई ऐसे इलाके हैं जिनकी डिमांड लगातार बढ़ रही है. लेकिन आपको नोएडा, दिल्ली के पास रहना है तो गाजियाबाद के वैशाली, वसुंधरा और इंदिरापुरम से बेस्ट जगह नहीं मिल सकती है.

Image result for Expensive society noida
Source-Google

अब तक Property Bharat ने आपको किराये पर रहने के हिसाब से उन जगहों के बारे में जानकारी दी है. जो बेस्ट है, लेकिन अब फैसला आपके हाथ में है. बेस्ट जगहों के बाद अब Property Bharat आपको कुछ जानकारी देगा जिस पर आपको एक बार जरूर सोचना चाहिए. अंतिम नतीजे पर पहुंचने से पहले प्रस्तावित किरायेदारों को एक चेकलिस्ट बनानी चाहिए

  • समय और दूरी, खासकर ट्रैफिक में खर्च होने वाले वक्त को कम करना.
  • अगर आपके पास कार है तब भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट नेटवर्क कैसा है.
  • जिसमें आप रहना चाहते हैं, वह सोसाइटी कैसी है.
  • आस-पड़ोस में सेफ्टी और सिक्योरिटी कैसी है.
  • इलाके में बुनियादी सुविधाओं की उपलब्धता.
  • किरायेदारों और मकानमालिक के अधिकारों को ध्यान में रखने हुए पेपरवर्क कराना चाहिए.
  • रेंट अग्रीमेंट के फॉर्मेट को ध्यान से चेक करें और देख लें कि कहीं आप बेनामी संपत्ति के लिए तो सालाना किराया नहीं दे रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *